December 26, 2016

हर नक़्श-ए-पा बुलंद है दीवार की तरह

Himanshu Bajpai   मेरे दोस्त, मेरे हमदम, मेरे मोहसिन, मेरे करमफ़रमा, अभिषेक शुक्ला का एक मज़मून इन दिनों इन्टरनेट पर धूम मचा रहा है. ये मज़मून […]
September 1, 2016

The Bewajah Post

So the idea came up during a discussion about why there should be a reason behind something. How eager we are to seek meaning behind actions […]
September 8, 2014

लखनऊ को आपकी ज़रुरत है मन्ने भाई |

प्रदीप कपूर साहब के स्टेटस से पता चला कि मुन्ने बख्शी नहीं रहे. तस्वीरों की नाज़ बरदारी में उम्र गुज़ारने वाले मुन्ने बख्शी खुद एक तस्वीर […]